ख़बर जहां, नज़र वहां

पंजाब सरकार ने अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रस्ताव किया पारित

पंजाब विधानसभा में बजट सत्र के अंतिम दिन गुरुवार को केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के खिलाफ विधानसभा में प्रस्ताव पारित किया गया। सीएम भगवंत मान ने कहा कि भाजपा वाले पहले अपने बेटों को अग्निवीर बनाएं।
पंजाब सरकार ने अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रस्ताव किया पारित

नई दिल्लीः पंजाब विधानसभा में बजट सत्र के अंतिम दिन गुरुवार को केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के खिलाफ विधानसभा में प्रस्ताव पारित किया गया। सीएम भगवंत मान ने कहा कि भाजपा वाले पहले अपने बेटों को अग्निवीर बनाएं। वहीं गढ़शंकर के आप विधायक जयकिशन रोड़ी को विधानसभा का डिप्टी स्पीकर चुना गया है। इससे पहले पीयू को सेंट्रल यूनिवर्सिटी बनाने के विरोध में प्रस्ताव पारित कर दिया गया। भाजपा के दोनों सदस्यों ने प्रस्ताव को गैर जरूरी बताते हुए इसका विरोध किया। वहीं कांग्रेस, शिअद और निर्दलीय सदस्य प्रस्ताव के पक्ष में रहे।इससे पहले मंगलवार को सदन में शून्यकाल के दौरान विपक्ष के नेता प्रताप सिंह बाजवा को जवाब देते हुए सीएम भगवंत मान ने कहा था कि अग्निपथ योजना राजग सरकार का एक तर्कहीन और अनुचित कदम है जो भारतीय सेना के बुनियादी स्वरूप को नष्ट कर देगा। बुधवार को मुख्यमंत्री भगवंत मान ने एलान किया था कि राज्य सरकार विधानसभा चुनाव से पहले जनता को दी गई गारंटियों को चरणबद्ध तरीके से पूरा कर रही है। इसी कड़ी में मुफ्त बिजली की गारंटी पूरी करने के बाद अब अगली गारंटी के रूप में पंजाब की महिलाओं को 1000 रुपये मासिक भत्ता दिया जाएगा। बजट सत्र के पांचवें दिन सदन में बजट प्रस्ताव पर बहस के बाद सरकार की तरफ से जवाब देते समय मुख्यमंत्री ने कहा कि वित्तीय मामलों में वित्त मंत्री ने सरकार का रोडमैप पेश किया है। उन्होंने कहा कि पूरे सत्र के दौरान विपक्ष की ओर से महिलाओं को 1000 रुपये देने का मुद्दा उठाया जाता रहा। इस गारंटी को लागू करने पर होने वाले खर्च और पंजाब की आय बढ़ाने की योजना बनाई जा रही है।

Leave Your Comment
Most Viewed
Related News