ख़बर जहां, नज़र वहां

इतिहास में 13 मई का दिन बहुत है खास, स्वतंत्र भारत का पहला संसद सत्र का हुआ था आयोजन

भारतीय लोकतंत्र के इतिहास में 13 मई का खास स्थान है. 1952 में इसी तारीख को स्वतंत्र भारत का पहला संसद सत्र आयोजित किया गया. इससे पहले 03 अप्रैल 1952 को पहली बार उच्च सदन यानी राज्यसभा का गठन किया गया और इसका पहला सत्र 13 मई को आयोजित किया गया.
इतिहास में 13 मई का दिन बहुत है खास, स्वतंत्र भारत का पहला संसद सत्र का हुआ था आयोजन

शुरू हुआ संसद का पहला सत्रः भारतीय लोकतंत्र के इतिहास में 13 मई का खास स्थान है. 1952 में इसी तारीख को स्वतंत्र भारत का पहला संसद सत्र आयोजित किया गया. इससे पहले 03 अप्रैल 1952 को पहली बार उच्च सदन यानी राज्यसभा का गठन किया गया और इसका पहला सत्र 13 मई को आयोजित किया गया. इसी तरह 17 अप्रैल 1952 को पहली लोकसभा का गठन किया गया, जिसका पहला सत्र 13 मई 1952 को आयोजित हुआ.

आपको बता दें कि 15 अगस्त 1947 को स्वतंत्र होने के बाद से देश पर संविधान सभा और अंतरिम सरकार का शासन था. 25 अक्टूबर 1951 से 21 फरवरी 1952 तक पहला आम चुनाव हुआ. भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अतिरिक्त श्यामा प्रसाद मुखर्जी की अगुवाई में भारतीय जनसंघ, डॉ. भीमराव अंबेडकर की रिपब्लिकन पार्टी, लोहिया व जेपी की समाजवादी पार्टी और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ने इस चुनाव में हिस्सा लिया था.

कुछ अन्य महत्वपूरण घटनाएः

1830- इक्वाडोर गणराज्य की स्थापना, जुआन जोस फ्लोरेंस पहले राष्ट्रपति बने.

1905- भारत के पूर्व राष्ट्रपति फखरुद्दीन अली अहमद का जन्म.

1960- मैक्स इसेलीन की अगुवाई में स्विट्जरलैंड का एक खोजी दल हिमालय में धौलागिरी पर्वत शिखर पर पहुंचा.

1962- सर्वपल्ली राधाकृष्णन देश के दूसरे राष्ट्रपति बने.

1981- पोप जॉन पॉल द्वितीय को तुर्की के एक नागरिक ने वेटिकन सिटी के सेंट पीटर्स स्कावयर में गोली मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया.

1998- विश्व भर की आलोचना और तमाम तरह के दबावों को दरकिनार करते हुए भारत ने दो और परमाणु परीक्षण किए.2001- भारतीय साहित्य की जानी-मानी शख्सियत आर.के. नारायण का निधन.

Leave Your Comment
Most Viewed
Related News