ख़बर जहां, नज़र वहां

देशी दूल्हा और विदेशी दुल्हन, बिहार का लड़का बना ऑस्ट्रेलिया का दमाद, विदेशी बहू को आशीर्वाद देने के लिए उत्साहित नजर आए लोग

बक्सर में ऑस्ट्रेलिया की बेटी बनी बहू बनी है. बुधवार की रात स्टेज पर देशी दूल्हा और विदेशी दुल्हन देखने वालों की भीड़ लगी थी. स्टेज पर दोनों जब पहुंचे तो हर किसी की नजर उन्हीं पर टिकी रह गई. ऑस्ट्रेलिया की विक्टोरिया बक्सर के जयप्रकाश की शादी हिंदू रीति रिवाज के साथ सम्पन्न हुई.
देशी दूल्हा और विदेशी दुल्हन, बिहार का लड़का बना ऑस्ट्रेलिया का दमाद, विदेशी बहू को आशीर्वाद देने के लिए उत्साहित नजर आए लोग

नई दिल्लीः बक्सर में ऑस्ट्रेलिया की बेटी बनी बहू बनी है. बुधवार की रात स्टेज पर देशी दूल्हा और विदेशी दुल्हन देखने वालों की भीड़ लगी थी. स्टेज पर दोनों जब पहुंचे तो हर किसी की नजर उन्हीं पर टिकी रह गई. ऑस्ट्रेलिया की विक्टोरिया बक्सर के जयप्रकाश की शादी हिंदू रीति रिवाज के साथ सम्पन्न हुई.

आपको बता दें कि बक्सर जिले के कुकुढा गांव के रहने वाले जयप्रकाश ने ऑस्ट्रेलिया से इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है. इस दौरान ही उनकी मुलाकात वहां विक्टोरिया से हुई. दोनों ने एक-दूसरे को दिल दे दिया. दो सालों तक अफेयर रहने के बाद युवक ने विक्टोरिया को जीवनासाथी बनने के लिए प्रपोज किया. वह तो राजी हो गईं, लेकिन अब घर वालों को मनाना बहुत मुश्किल काम था. 2021 में पढ़ाई पूरी करने के बाद JP ऑस्ट्रेलिया में ही जॉब कर रहा था.

इस दौरान उन्होंने विक्टोरिया के माता और पिता से भी शादी के लिए रजामंदी ले ली. अब अपनी फैमिली को मनाने की बड़ी चुनौती थी. पिता नंदलाला यादव मुखिया भी रह चुके हैं. समाज से उनका अलग तरह का लगाव है. पहले तो फैमिली इस शादी के लिए राजी नहीं हुई. जयप्रकाश ने पूरे परिवार के लोगों को काफी समझाया. फिर यह भी बताया कि उनकी बहू अपने परिवार के साथ ऑस्ट्रेलिया से बक्सर आएगी. फिर हिंदू रीति-रिवाजों के साथ शादी होगी. इसके बाद परिवार वालों ने भी हामी भर दी.

विक्टोरिया ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न शहर के जीलॉन्ग की रहने वाली हैं. वह वहां एक स्कूल में बतौर टीचर जॉब भी करती हैं. शादी की तारीख फाइनल होने के बाद अपनी मां अमेंडा टॉकेट और पिता स्टीवन टॉकेट के साथ बक्सर पहुंची हैं. 20 अप्रैल की रात दोनों की शादी बक्सर में हुई.अपने पांच भाई और दो बहनों में वह सबसे छोटी हैं.

वहीं बेटी का कन्यादान करने की रस्म निभाने के बाद ससुर स्टीवन रॉकेट ने कहा कि उन्हें अपनी बेटी की पसंद पर नाज है. उन्होंने बिहारी संस्कृति को भी काफी समृद्ध संस्कृति बताया. बुधवार की रात हुई इस शादी को देखने के लिए बड़ी संख्या में गेस्ट पहुंचे थे. सभी विदेशी बहू को आशीर्वाद देने के लिए उत्साहित नजर आ रहे थे.

Leave Your Comment
Most Viewed
Related News