ख़बर जहां, नज़र वहां

मृतक कन्हैयालाल के घर पहुंचे अशोक गहलोत

सीएम अशोक गहलोत उदयपुर स्थित मृतक कन्हैयालाल के घर पहुंचे, जहां उन्होंने पीड़ित परिवार से मुलाकात कर ढांढस बढ़ाया।
मृतक कन्हैयालाल के घर पहुंचे अशोक गहलोत

नई दिल्लीः सीएम अशोक गहलोत उदयपुर स्थित मृतक कन्हैयालाल के घर पहुंचे, जहां उन्होंने पीड़ित परिवार से मुलाकात कर ढांढस बढ़ाया। सीएम ने कन्हैयालाल के परिवार को 51 लाख का चेक सौंपा।वहीं उदयपुर हत्याकांड के विरोध में गुरुवार को सर्व समाज की ओर से मौन जुलूस निकाला गया। इस जुलूस में हजारों लोग शामिल हुए। टाऊन हॉल से कलेक्ट्रेट तक रैली निकाली गई। कलेक्ट्रेट से लौटते समय दिल्लीगेट चौराहे पर कुछ युवकों ने पथराव कर दिया। जिसके बाद पुलिस ने बल प्रयोग कर लोगों को खदेड़ा।उदयपुर में मौन जुलूस निकाला गया। हत्या के विरोध में लोग हाथों में तिरंगा और भगवा झंडा लेकर सड़क पर उतरे। कई लोगों ने पोस्टर के जरिए आरोपियों की फांसी की मांग की। हालांकि, जुलूस के दौरान कुछ इलाकों में छुटपुट वारदातों की खबरें भी आ रही हैं। एक ढाबे को जला दिया गया। एक धर्मस्थल को भी नुकसान पहुंचा है। पथराव हुआ है। हिंदू और अन्य संगठनों ने जयपुर, उदयपुर, पाली, कोटा, जालोर, जैसलमेर सहित कई जिलों में बंद का एलान किया है। वहीं गुजरात रोडवेज की सभी बसें अगले आदेशों तक राजस्थान में नहीं आएगी। गुजरात ने डूंगरपुर जिले के रतनपुर बॉर्डर से राजस्थान में आने वाली गुजरात रोडवेज की बसों को गुजरात के आखिरी बस स्टैंड शामलाजी में रोक दिया है। गुजरात रोडवेज प्रबंधन ने सभी सरकारी बसों को वापस बुलाने का निर्णय किया है।हिंदू संगठनों के बंद का आह्वान को व्यापरी संगठन ने समर्थन दिया है। जिसके बाद जयपुर के बाजार बंद हैं। इस बंद को मुस्लिम समुदाय का भी समर्थन मिला है। जयपुर की चार दीवारी स्थित रामगंज बाजर, त्रिपोलिया, छोटी चौपड़, बड़ी चौपड़, पुरोहित जी का कटला समेत जयपुर के सभी बाजर बंद हैं। वहीं सुरक्षा के लिहाज से राजधानी में करीब एक हजार पुलिस बल तैनात किया गया है। उदयपुर सापेटिया गांव में एक इंजीनियरिंग फैक्ट्री थी। उसमें एसआईटी ने छापा मारा है। वहां से धारदार हथियार बरामद किए हैं। कन्हैयालाल की हत्या में इस्तेमाल किए गए हथियार इसी फैक्ट्री में बनाए गए थे। इसी तरह के और भी हथियार हैं, जिन्हें पुलिस ने बरामद किया है। इसी फैक्ट्री में दोनों आरोपियों ने हत्या के बाद वीडियो बनाया था। एसआईटी ने फैक्ट्री को सील कर दिया है। वहां से बड़ी संख्या में हथियार बरामद किए हैं। आरोपी रियाज उदयपुर के ही किशनपोल खांजीपीर किराये के मकान में रहता था। इसके मकान मालिक से पूछताछ की जा रही है। बताया जाता है कि घटना के दो दिन पहले से इसकी पत्नी लापता है। मकान मालिक को रियाज ने बताया था कि वह वेल्डिंग का काम करता है। उदयपुर हत्याकांड की जांच अब एनआईए कर रही है। गुरुवार को भी एनआईए और एसआईटी आरोपियों से पूछताछ करेगी। वहीं गुरुवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, गृह राज्य मंत्री राजेंद्र यादव, डीजीपी एमएल लाठर उदयपुर आएंगे और कन्हैयालाल के परिवार से मुलाकात करेंगे।

Leave Your Comment
Most Viewed
Related News